https://www.facebook.com/IndiaTravelVideos

भगवान शिव को बिनसर देव के नाम से भी जाना जाता है और उन्हीं के नाम पर इस जगह का नामकरण हुआ है। कुमाऊं क्षेत्र का सबसे ऊंचा हिल स्टेशन बिसनर झंडीढर पहाड़ियों पर समुद्र तल से 2400 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। बिनसर गढ़वाली बोली का एक शब्द है -जिसका अर्थ नव प्रभात है।[1] यहां से अल्मोड़ा शहर का उत्कृष्ट दृश्य, कुमाऊं की पहाडियां और ग्रेटर हिमालय भी दिखाई देते हैं। घने देवदार के जंगलों से निकलते हुए शिखर की ओर रास्ता जाता है, जहां से हिमालय पर्वत श्रृंखला का अकाट्य दृश्‍य और चारों ओर की घाटी देखी जा सकती है। बिनसर से हिमालय की केदारनाथ, चौखंबा, त्रिशूल, नंदा देवी, नंदाकोट और पंचोली चोटियों की ३०० किलोमीटर लंबी शृंखला दिखाई देती है, जो अपने आप में अद्भुत है और ये बिनसर का सबसे बड़ा आकर्षण भी हैं।बिनसर वन्य जीव अभयारण्य में तेंदुआ पाया जाता है। इसके अलावा हिरण और चीतल तो आसानी से दिखाई दे जाते हैं। यहां २०० से भी ज्यादा तरह के पंक्षी पाये जाते हैं। इनमें मोनाल सबसे प्रसिद्ध है ये उत्तराखंड का राज्य पक्षी भी है किन्तु अब ये बहुत ही कम दिखाई देता है। अभयारण्य में एक वन्य जीव संग्रहालय भी स्थित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here